विश्व लोकतंत्र में अनुपम उदाहरण है भाजपा


देश की जनता का भारी जनादेश अत्यंत महत्वपूर्ण दायित्वों के साथ मिला है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपानीत राजग के प्रति निरंतर बढ़ते जनविश्वास का परिणाम यह जनादेश है जो पिछले पांच वर्षों की कड़ी मेहनत एवं दूरदर्शी नीतियों से अर्जित की गई है। यह संपूर्ण राष्ट्र एवं देश के जन–जन के प्रति दायित्वों एवं कर्तव्यों का वह बोध है, जिससे मोदी सरकार ‘नए भारत’ के निर्माण के प्रति दिन–रात समर्पित है। यह मोदी सरकार के ‘स्पीड, स्केल, स्किल’ का ही परिणाम है कि भारत के अनेक अभिनव जनकल्याणकारी कार्यक्रमों को पूरे विश्व में मान्यता मिल रही है तथा विभिन्न स्तरों पर अनेक उपलब्धियां प्राप्त हो रही हैं। वर्तमान में चल रहे संसद सत्र में राष्ट्रपति महोदय ने अपने अभिभाषण में सरकार की उपलब्धियों एवं प्राथमिकताओं को रेखांकित किया है। एक ओर जहां मोदी सरकार के पिछले पांच वर्षों की उपलब्धियों का खाका प्रस्तुत किया गया, वहीं दूसरी ओर उनकी निरंतरता के प्रति देश को आश्वस्त हुआ है। राष्ट्रपति अभिभाषण से पूरा देश पुन: आशा एवं विश्वास से भर गया है कि मोदी सरकार देश के सर्वांगीण विकास, अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र में प्रगति एवं समाज के हर अंग के उत्थान के लिए ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के सिद्धांत पर पूर्ण रूपेण संकल्पित है। राष्ट्रपति अभिभाषण में न केवल वर्तमान की आवश्यकताओं पर बल दिया गया है, बल्कि भविष्य के लिए एक दूरदर्शी, राष्ट्र केंद्रित विकास का पथ भी प्रशस्त किया गया है। एक सशक्त, सुदृढ़, समृद्ध एवं गौरवशाली भारत के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध मोदी सरकार का अभिनंदन आज राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मंचों पर हो रहा है।

एक ओर जहां मोदी सरकार एक महान् भारत के नींव के निर्माण में दिन–रात लगी हुई है, दूसरी ओर आने वाले दिनों में अपनी सदस्य संख्या 20 प्रतिशत बढ़ाकर भाजपा ने नए सदस्यता अभियान के माध्यम से संगठन को और अधिक सुदृढ़ करने का संकल्प लिया है। आज जब भाजपा जन–जन की आशाओं एवं आकांक्षाओं के रूप में उभरी है, देश के कोने–कोने में संगठन के विस्तार एवं सुदृढ़ीकरण से भाजपा से जन-जन की जुड़ी राष्ट्रीय आकांक्षाओं का आभास मिलता है। हाल में संपन्न हुए लोकसभा चुनावों में पूरे देश में जनाकांक्षाओं का प्रकटीकरण कई नए क्षेत्रों में भाजपा के विजय से हुआ है।

इसलिए यह भाजपा का दायित्व बनता है कि अपने इस व्यापक होते जनाधार को संगठनात्मक आधार दे और इसी लक्ष्य के साथ भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने सदस्यता अभियान की योजना बनाई है, ताकि नए सदस्यों को पार्टी से जोड़कर संगठन को और अधिक व्यापक एवं सुदृढ़ किया जा सके। विश्व के सबसे बड़े राजनैतिक दल के रूप में आने वाले महीनों में भाजपा और भी अधिक बड़ी पार्टी बन जाएगी, जो विश्व के लोकतंत्र में स्वयं में एक अनुपम उदाहरण होगा।

एक ओर जहां देश के कोने–कोने में जनसेवा के माध्यम से भाजपा का संगठनात्मक आधार निरंतर बढ़ा है, वहीं दूसरी तरफ श्री जगत प्रकाश नड्डा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बनने से पार्टी को और अधिक ऊर्जा एवं गति मिलने वाली है। श्री जगत प्रकाश नड्डा, जिन्होंने संगठन के विभिन्न स्तरों पर अपना बहुमूल्य योगदान दिया है तथा पिछली मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, एक सांगठनिक व्यक्ति के रूप में जाने जाते हैं, जिनमें संगठनात्मक अनुभव, दक्षता एवं उच्च आदर्शों के लिए प्रतिबद्धता कूट–कूट कर भरी है। कार्यकारी अध्यक्ष की घोषणा से पुन: उन उच्च सिद्धांतों का साक्षात्कार हुआ है, जिनका आज देश में भाजपा एक लोकतांत्रिक पार्टी के रूप में प्रतिनिधित्व करती है। इसमें राई मात्र भी संदेह नहीं कि भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह एवं भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा के नेतृत्व में आने वाले दिनों में भाजपा और भी कई नये कीर्तिमान स्थापित करेगी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा नीत राजग सरकार की गौरवशाली उपलब्धियों से भाजपा नेतृत्व की विश्वसनीयता कई गुणा अधिक बढ़ी है जिससे भाजपा और अधिक सुदृढ़ हुई है। ‘राष्ट्र प्रथम’ की भावना भविष्य में भी निरंतर भाजपा कार्यकर्ताओं को मां भारती के चरणों में समर्पित होने को प्रेरित करती रहेगी।

        shivshakti@kamalsandesh.org