‘भाजपा का मानना है विकास ही सभी समस्याओं का समाधान’

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 4 नवंबर को छत्तीसगढ़ के अंबागढ़ चौकी, (खुज्जी विधानसभा, जिला राजनंदगांव), अतरिया (खैरागढ़ विधानसभा, जिला राजनंदगांव) और कोंडागांव (जिला कोंडागांव) में आयोजित विशाल जनसभाओं को संबोधित किया और राज्य की जनता से एक बार फिर ‘नवा छत्तीसगढ़’ बनाने के लिए श्री रमण सिंह के नेतृत्व में दो-तिहाई से अधिक बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने की अपील की।

श्री शाह ने कहा कि छत्तीसगढ़ की जनता ने एक बार फिर से राज्य में विकास की गाथा को आगे बढ़ाने के लिए श्री रमण सिंह के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का निश्चय कर लिया है। उन्होंने कहा कि एक ओर कांग्रेस पार्टी है जिसका न कोई नेता है, न नीति है, न विकास करने की नीयत है और न ही कोई सिद्धांत है। वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री रमण सिंह के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी है जिसका मानना है कि विकास ही सभी समस्याओं का समाधान है। उन्होंने राज्य की जनता का आह्वान करते हुए कहा कि आप छत्तीसगढ़ में एक ऐसी सरकार बनाइये जो छत्तीसगढ़ को ‘नवा छत्तीसगढ़, समृद्ध छत्तीसगढ़’ बनाए और यह केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा छत्तीसगढ़ के साथ अन्याय ही किया है। जब छत्तीगढ़ का यह हिस्सा मध्य प्रदेश में शामिल था, तब भी और जब यह राज्य बना तब भी कांग्रेस छत्तीसगढ़ को लगातार अनदेखी करती रही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने और तब के कांग्रेस के तमाम नेताओं ने छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण का विरोध किया। यह श्रद्धेय श्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार थी, जिसने नए छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण किया। उन्होंने कहा कि राज्य के गठन के पश्चात छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनी, लेकिन कांग्रेस सरकार ने तब भी राज्य की जनता को विकास से महरूम रखा गया। उन्होंने कहा कि जल्द ही राज्य की जनता का धैर्य जवाब दे गया और उन्होंने छत्तीसगढ़ से कांग्रेस को उखाड़ फेंकते हुए विकास की नई कहानी लिखने वाली भारतीय जनता पार्टी की श्री रमण सिंह सरकार का गठन करने का जनादेश दिया। उन्होंने कहा कि देखते ही देखते पूरा परिदृश्य बदल गया और विकास समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति तक पहुंचने में सफल हो सका।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री रमण सिंह ने छत्तीसगढ़ में विकास को घर-घर पहुंचाने का महती कार्य किया है। उन्होंने कहा कि राज्य में रेल, सड़क, बिजली, शौचालय, टीकाकरण, शिक्षा, स्वास्थ्य – विकास के लगभग सभी पैमाने पर उल्लेखनीय कार्य हुआ है और गरीब से गरीब व्यक्ति भी यह महसूस करने लगा है कि देश और प्रदेश का विकास केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी सरकार आयेगी तो विकास डबल इंजन की गति से और आगे बढ़ेगा, लेकिन कांग्रेस की सरकार आयेगी तो राज्य की महिलाओं को अपमानित करने के लिए सीडी बनाने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि शर्म आती है ऐसी कांग्रेस पार्टी पर जो ऐसे नेता के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है जो सीडी बनाकर राज्य की महिलाओं का अपमान करते हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने केवल एक परिवार का विकास करने के अतिरिक्त देश में कहीं भी विकास नहीं किया है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी कह रहे हैं कि भाजपा सरकार ने छत्तीसगढ़ के लिए क्या किया। ऐसा लगता है कि कांग्रेस पार्टी झूठ बोलने की मशीन बन गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेताओं का एक ही काम रह गया है – झूठ बोलना, जोर से बोलना, बार-बार बोलना और सार्वजनिक रूप से बोलना। उन्होंने कहा कि उन्होंने कहा कि 13वें वित्त आयोग में कांग्रेस पार्टी की सोनिया-मनमोहन की सरकार ने छत्तीसगढ़ को विकास के लिए महज 48,000 करोड़ रुपये की राशि दी, जबकि मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में छत्तीसगढ़ को विकास के पथ पर तेज गति से अग्रसर करने के लिए 1,37,927 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है जो यूपीए सरकार का लगभग तीन गुना है। उन्होंने कहा कि हमने छत्तीसगढ़ की जनता को उनका अधिकार दिया है जिससे कांग्रेस ने उन्हें वंचित कर रखा था।

छत्तीसगढ़ की भारतीय जनता पार्टी सरकार की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए श्री शाह ने कहा कि रमण सिंह सरकार ने 15 सालों में छत्तीसगढ़ की छवि को बदलने का काम किया है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ से कांग्रेस सरकार की विदाई के वक्त राज्य की विद्युत् उत्पादन क्षमता महज 4,000 मेगावाट थी, रमण सिंह सरकार ने इसे 22,000 मेगावाट तक पहुंचाने का काम किया है और 10,000 मेगावाट पर काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना के तहत राज्य की 36 लाख से अधिक गरीब माताओं को लकड़ी के धुएं से मुक्ति मिली है। लगभग ढ़ाई लाख से अधिक गरीब परिवारों को पक्के मकान दिए गए हैं और गरीबों को दो वक्त का खाना देने के उद्देश्य से दो रुपये किलो चावल प्रदान किया गया है।

उन्होंने कहा कि मुझे यह कहते हुए अत्यंत ही गर्व हो रहा है कि श्री रमण सिंह ने चावल बांटने की योजना इतने अच्छे तरीके से और बिना किसी भ्रष्टाचार के इम्प्लीमेंट किया कि अब देश के कई राज्य इस प्रणाली को अपना रहे हैं। उन्होंने कहा कि आदिवासी भाइयों एवं माताओं के पैरों में विनम्रता के साथ रमण सिंह सरकार ने चरण-पादुका पहनाने का काम किया है। बच्चों की पढ़ाई के लिए इंतजाम हुए हैं और स्वास्थ्य के लिए भी विशेष प्रबंध किये गए हैं।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस सरकार छत्तीसगढ़ के बजट को केवल 9,000 करोड़ रुपये वार्षिक पर छोड़ कर गई थी, जबकि श्री रमण सिंह सरकार के 15 सालों में यह बढ़कर 83,169 करोड़ रुपये हो गई है, लेकिन कांग्रेस को विकास दिखाई नहीं देता। उन्होंने कहा कि राज्य की प्रति व्यक्ति आय भारतीय जनता पार्टी सरकार के 15 सालों में 13 हजार रुपये से बढ़कर 92 हजार करोड़ रुपये हो गई है।

नक्सलवाद पर एक कांग्रेस नेता के बयान की तीखी आलोचना करते हुए श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस के नेता नक्सलवाद को क्रांति की संज्ञा दे रहे हैं, जबकि पूरी दुनिया को पता है कि नक्सलवाद इंसानियत का दुश्मन है। उन्होंने कहा कि नक्सलवाद के कारण छत्तीसगढ़ का विकास वर्षों तक बाधित रहा, लेकिन अपनी जान की परवाह किये बगैर श्री रमण सिंह छत्तीसगढ़ से नक्सलवाद का खात्मा करने का काम कर रहे हैं और कांग्रेस पार्टी को नक्सलवाद में क्रांति दिखाई देती है। उन्होंने कांग्रेस के नेताओं को सीख देते हुए कहा कि राहुल गांधी, बम के धमाकों और गोलियों से कभी क्रांति नहीं आती, क्रांति तो तब आती है जब गरीबों को रहने के लिए घर मिलता है, गरीब माताओं को चूल्हे के धुएं से मुक्ति मिलती है। उनकी घरों में बिजली पहुंचती है, शौचालय पहुंचता है, बच्चों का टीकाकरण होता है और दो वक्त के खाने के लिए चावल मिलता है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को क्रांति की व्याख्या बदलनी पड़ेगी। उन्होंने सभा में उपस्थित जनता से पूछते हुए कहा कि राज्य से नक्सलवाद का सफाया होना चाहिए या नहीं तो जनता ने एक स्वर में उद्घोष किया कि नक्सलवाद का जड़ से खात्मा होना ही चाहिए।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अभी हाल ही में अर्बन माओवादी पकड़े गए तो कांग्रेस पार्टी इसे अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला बताने लगी, लेकिन कांग्रेस पार्टी को यह मालूम होना चाहिए कि जवानों को मारना, रेल की पटरियों को उखाड़ना, सड़कों को तोड़ना, पत्रकारों की हत्या करना, देश के प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचना और बम धमाके करना कभी भी अभिव्यक्ति की आजादी नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने नक्सलवाद को संरक्षण दिया, जबकि रमण सिंह सरकार इसे ख़त्म कर राज्य में विकास की बयार लाना चाहती है।

श्री शाह ने कहा कि आजकल कांग्रेस नेता कहते घूम रहे हैं कि मेड इन जापान, मेड इन चाइना तो होता है, लेकिन मेड इन छत्तीसगढ़ क्यों नहीं होता? मैं कांग्रेस के नेताओं को बताना चाहता हूं कि पहले आप अपनी आंखों पर लगे इटैलियन चश्मे को तो उतारिये क्योंकि आपको परिवर्तन दिखाई नहीं देता। आज छत्तीसगढ़ का सीमेंट, सरिया, एल्युमीनियम देश के विकास में योगदान दे रहा है। आज छत्तीसगढ़ की बिजली दूसरे राज्यों में वितरित की जाती है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में रमण सिंह सरकार के 10 वर्षों तक केंद्र में कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन सरकार रही, जिसने लगातार राज्य के विकास में अवरोध उत्पन्न किया लेकिन पिछले पांच वर्षों से केंद्र में भी और राज्य में भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और विकास डबल इंजन की गति से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि हमें ‘नवा छत्तीसगढ़, विकसित छत्तीसगढ़’ बनाना है और इसके लिए हम प्रतिबद्ध हैं।