भाजपा ने झारखंड में सबसे अधिक मत प्रतिशत के साथ 25 सीटों पर जीत हासिल की


झारखंड विधानसभा चुनाव के परिणामों की घोषणा 23 दिसंबर, 2019 को हुई। इस चुनाव में भाजपा ने 25 सीटें जीतीं और उसका मत प्रतिशत 33.4 रहा, जो राज्य में किसी भी पार्टी को मिलने वाले मत प्रतिशत से अधिक है। जबकि, कांग्रेस और राजद के साथ गठबंधन में हेमंत सोरेन के नेतृत्व वाली झामुमो ने 81 सदस्यीय राज्य विधानसभा में बहुमत हासिल किया। इस गठबंधन ने 47 सीटों पर विजय हासिल की है।

भाजपा ने झारखंड विधानसभा की 81 में से 79 सीटों पर चुनाव लड़ा, वहीं पार्टी ने एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार को अपना समर्थन दिया और आजसू पार्टी के अध्यक्ष सुदेश महतो के खिलाफ किसी उम्मीदवार को मैदान में नहीं उतारा था।

चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद पूर्व सीएम श्री रघुबर दास ने कहा कि भाजपा की आजसू पार्टी का गठबंधन नहीं होने और विपक्षी दलों का गठबंधन बरकरार रहने के कारण इस विधानसभा चुनाव में पार्टी को नुकसान उठाना पड़ा है। श्री दास ने कहा कि यह हार उनकी है, भाजपा की नहीं।

श्री दास ने कहा, “मैंने ईमानदारी से झारखंड के विकास के लिए काम किया है। जिसमें बिजली, सड़क और अन्य योजनाओं का क्रियान्वयन शामिल है, इसका लाभ समाज के हर वर्ग को मिला है। भविष्य में भी मैं एक भाजपा कार्यकर्ता के रूप में काम करूंगा क्योंकि भाजपा हमेशा राष्ट्र निर्माण के कार्य में लगी रहती है।”

उसी दिन शाम को श्री रघुबर दास ने मुख्यमंत्री पद से अपना इस्तीफा राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को सौंप दिया। श्री दास नई सरकार के बनने तक कार्यवाहक मुख्यमंत्री के तौर पर काम करते रहेंगे।
परिणाम से पता चलता है कि यह न तो सत्ता विरोधी लहर थी और न ही सरकार की अलोकप्रियता इन चुनावों में हार की वजह बनीं। 2014 के चुनावों की तुलना में कम सीटें पाने के बावजूद भाजपा को इस बार सबसे अधिक मत प्रतिशत हासिल हुआ, जबकि, झामुमो ने अपने दो सहयोगी दलों के साथ गठबंधन कर जीत हासिल की।

झारखंड के इतिहास में पहली बार भाजपा ने एक स्थिर सरकार दी और राज्य के विकास के लिए भी विभिन्न स्तरों पर काम किया। सरकार की कल्याणकारी योजनाएं जैसे ग्रामीण सड़क, आदिवासी क्षेत्रों का विद्युतीकरण और गरीबों के लिए मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन, सभी मतदाताओं के बीच बहुत लोकप्रिय हुई। यही कारण है कि इस बार पार्टी के वोट शेयर में बढ़ोतरी हुई है। भाजपा ने 2014 के विधानसभा चुनावों में 37 सीटें जीती थीं और आजसू के समर्थन से सरकार बनाई थी।

भाजपा जन-केंद्रित मुद्दों पर काम करती रहेगी : प्रधानमंत्री मोदी

झारखंड में जीत के बाद झामुमो अध्यक्ष श्री हेमंत सोरेन को बधाई देते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने एक ट्वीट में लिखा, “मैं हेमंत सोरेन जी और झामुमो के नेतृत्व वाले गठबंधन को झारखंड चुनावों में जीत के लिए बधाई देता हूं। राज्य की सेवा करने के लिए उन्हें शुभकामनाएं।

श्री मोदी ने भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार को कई वर्षों तक राज्य की सेवा करने का अवसर देने के लिए झारखंड के लोगों को भी धन्यवाद दिया।

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, “मैं भाजपा को कई वर्षों तक राज्य की सेवा करने का अवसर देने के लिए झारखंड के लोगों को धन्यवाद देता हूं। मैं उनके प्रयासों के लिए सभी मेहनती पार्टी कार्यकर्ताओं की सराहना करता हूं। हम राज्य की सेवा करते रहेंगे और आने वाले समय में जनता से संबंधित मुद्दों को उठाते रहेंगे।”

भाजपा झारखंड में मिले जनादेश का सम्मान करती है : अमित शाह

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कहा कि भाजपा झारखंड के मतदाताओं के जनादेश का सम्मान करती है, बता दे कि विधानसभा चुनाव में झामुमो-कांग्रेस गठबंधन विजयी हुआ था। एक ट्वीट में श्री शाह ने झारखंड के लोगों को भाजपा को पांच साल तक राज्य की सेवा करने का मौका देने के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी पार्टी राज्य के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने विधानसभा चुनावों में अथक प्रयासों के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं की सराहना की।

हम झारखंड में जनादेश को स्वीकार करते हैं : जेपी नड्डा

भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने एक ट्वीट में कहा, “लोकतंत्र में जनता का आदेश सर्वोच्च होता है। हम झारखंड चुनाव में प्राप्त जनादेश को स्वीकार करते हैं। भारतीय जनता पार्टी झारखंड के विकास के लिए हमेशा तैयार है। हम राज्य के विकास के लिए हर मुद्दे को उठाते रहेंगे। हमारे कार्यकर्ताओं और राज्य के लोगों को धन्यवाद।”