चौथी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने बी.एस. येदियुरप्पा


भाजपा के वरिष्ठ नेता श्री बी.एस. येदियुरप्पा ने 26 जुलाई को राज्य में चौथी बार मुख्यमंत्री का पद संभाला। राज्यपाल श्री वजुभाई वाला ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

श्री येदियुरप्पा ने भगवान के नाम पर शपथ ग्रहण की। राजभवन में शपथ लेने से पूर्व उन्होंने काडू मल्लेश्वरा मंदिर में पूजा अर्चना की। श्री बीएस येदियुरप्पा ने मल्लेश्वरम स्थित पार्टी मुख्यालय में भाजपा समर्थकों को संबोधित भी किया। उन्होंने कर्नाटक में सूखे से प्रभावित किसानों की मदद के लिए समर्थन देने और काम करने का वादा किया।

गत 29 जुलाई को कर्नाटक की बीएस येदियुरप्पा सरकार ने विश्वास मत हासिल किया। कांग्रेस-जेडी(एस) की गठबंधन सरकार गिरने के बाद सत्ता में आई भाजपा सरकार को विश्वास मत हासिल करना था।

पहले सदन में बहुमत प्रस्ताव पेश करते हुए श्री येदियुरप्पा ने कहा, ‘प्रशासन विफल हो गया है और हम उसे सही करेंगे। मैं सदन को भरोसा दिलाता हूं कि हम बदले की राजनीति नहीं करेंगे।’ किसानों के मुद्दे को उठाते हुए उन्होंने कहा, ‘सूखा पड़ा है। मैं किसानों के मुद्दे पर बात करना चाहता हूं।

मैंने फैसला किया है कि 2000 रुपये की दो किश्तें प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत लाभार्थियों को राज्य की तरफ से दी जाएंगी। मैं विपक्ष से अपील करता हूं कि मिलकर काम करें। मैं सदन से अपील करता हूं कि एकमत से मेरे लिए भरोसा दिखाएं।’