नवीन सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान


गजपति (ओडिशा)

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस एवं बीजू जनता दल (बीजद) को आप लोगों ने लंबे समय तक शासन करने का अवसर दिया। इस बार भाजपा को अवसर दें, पांच साल में ओडिशा को देश का एक नंबर राज्य बना कर दिखा देंगे। इसके लिए आपको नवीन पटनायक सरकार को उखाड़ कर फेंक देने का संकल्प लेना होगा।

यह बात 1 अप्रैल को श्री शाह ने गजपति जिला अंतर्गत पारलाखेमुंडी में आयोजित एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही।

श्री अमित शाह ने अपने भाषण की शुरुआत से ही नवीन पटनायक सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य की बात है कि नवीन बाबू ओडिशा में 19 साल से शासन कर रहे हैं, मगर आज तक ओडिया भाषा में बात करना तक नहीं सीखे। हाल ही में उन्होंने सूरत में एक सभा की थी, जिसमें 30000 ओडिया लोग शामिल हुए थे। यहां सवाल ये उठता है कि आखिरकार राज्य के लोग अपने घर को छोड़कर काम-धंधा के लिए दूसरे राज्यों में क्यों जाना पड़ रहा है। 19 साल से नवीन बाबू की सरकार क्या कर रही है, भाजपा की सरकार ओडिशा में बनने के बाद यहां के लोगों को सूरत नहीं जाना पड़ेगा, उन्हें अपने गांव में ही अपने घर पर रोजगार मिलेगा।

श्री शाह ने यह भी कहा कि राज्य की सरकार पश्चिम ओडिशा एवं मध्य ओडिशा के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। यह सरकार किसी भी कार्य के लिए कमीशन लेती है। इस सरकार ने महाप्रभु के रत्न भंडार को नहीं छोड़ा। नवीन सरकार ने महेंद्र तनया प्रोजेक्ट को नहीं होने दिया। हर घर में अभी तक इस सरकार ने पानी तक मुहैया नहीं कर पाई है। अस्पतालों में डॉक्टर नहीं है। नवीन बाबू ने भ्रष्टाचार के सिवा और कुछ नहीं किया है। गरीबी को कैसे दूर किया जाएगा, इसके लिए नवीन बाबू को ट्यूशन लेनी चाहिए। ट्यूशन के लिए नवीन बाबू को फीस देनी होगी। हम उन्हें मुफ्त में ट्यूशन देंगे, मगर इसके लिए अभी समय नहीं है, यह समय चला गया। ओडिशा को एक युवा एवं नए मुख्यमंत्री की जरूरत है।

उन्होंने इस अवसर पर केंद्र में एक बार फिर मोदी सरकार लाने के लिए लोगों से आह्वान किया। श्री शाह ने कहा कि हम जहां भी जा रहे हैं, लोग यही कह रहे हैं मोदी सरकार आनी चाहिए। पूरे देश में लोग एक बार फिर मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाह रहे हैं। देश में एक बार फिर मोदी सरकार लाने के लिए आप संकल्प लें। श्री अमित शाह ने कहा कि भाजपा ने देश को एक ऐसा प्रधानमंत्री दिया है, जो 24 घंटा में 18 घंटा गरीब लोगों के विकास के लिए चिंतन कर रहा है देश उनके हाथों में सुरक्षित है।
इसके साथ ही श्री अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी हमला बोला। समझौता एक्सप्रेस मामले में सभी हिंदू निर्दोष साबित हुए हैं। ऐसे में हिंदू कभी आतंकी नहीं होते हैं। हिंदू देश का निर्माण करते हैं। श्री अमित शाह ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद कांग्रेस का बयान निंदनीय है। मोदी मौनी बाबा नहीं है। आतंकियों को उनके घर में घुसकर मारा गया।

राजौरी (जम्मू-कश्मीर)

‘जम्मू-कश्मीर समस्या के लिए नेहरू हैं जिम्मेदार’

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 3 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर के सुंदरबनी में रोहिंग्याओं को देश में घुसने से रोकने के लिए भाजपा नीत राजग सरकार को श्रेय देते हुए कहा कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की समाप्ति से पहले सभी घुसपैठियों को देश से बाहर निकाल देंगे।

श्री शाह ने अवैध प्रवासियों को देश के लिए “दीमक” बताया। उन्होंने संविधान में अनुच्छेद 370 को शामिल करने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और कांग्रेस को भी जिम्मेदार ठहराया, जो जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करता है। राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के करीब स्थित इस सीमावर्ती शहर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुये श्री शाह ने पूछा ‘‘भाजपा सरकार द्वारा किया गया सबसे बड़ा काम देश में रोहिंग्याओं की घुसपैठ को खत्म करना था। पीडीपी ने रोहिंग्याओं (राज्य में) का स्वागत किया। मुझे बताइए कि क्या रोहिंग्याओं की घुसपैठ रुकनी चाहिए या नहीं,” बड़ी संख्या में मौजूद श्रोताओं ने जोरदार आवाज में ‘‘हां’’के साथ जवाब दिया।

श्री अमित शाह ने इससे पूर्व अपने भाषण में राहुल गांधी के अमेठी के अलावा केरल के वायनाड से भी चुनाव लड़ने के फैसले पर निशाना साधा था। चुनाव प्रचार के क्रम में यूपी में एक रैली को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने राहुल गांधी की दो सीटों से चुनाव लड़ने की बात पर कहा कि अमेठी में हिसाब-किताब चुकता होने वाला है, इसलिए राहुल गांधी केरल भाग रहे हैं। श्री अमित शाह ने कहा कि अमेठी में हार की डर की वजह से राहुल गांधी वायनाड भाग रहे हैं।
श्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस की वोटबैंक की राजनीति ने देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने का काम किया। इसी का नतीजा है कि राहुल गांधी अमेठी छोड़कर केरल की ओर भागे हैं, क्योंकि उन्हें पता है कि इस बार अमेठी में उनका हिसाब-किताब होना तय है। आगे उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हिन्दू समुदाय पर आतंकवाद का टैग लगाया, लेकिन सत्य को आप छुपा नहीं सकते। सूर्य को कितने भी बादलों में छिपा दो लेकिन सत्य और सूर्य तेजस्वी होकर हमेशा चमकते हैं। आज इस जजमेंट ने साबित कर दिया हैं कि स्वामी असीमानंद और बाकी सभी लोग निर्दोष है।

चांगलांग (अरुणाचल प्रदेश)

‘केंद्र सरकार ने पूर्वोत्तर में शांति लाने का काम किया’

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 5 अप्रैल को कहा कि पांच साल पहले पूर्वोत्तर भारत डिस्टर्ब था और बहुत कम विकास हुआ था, लेकिन मात्र 5 साल में बीजेपी की सरकार में यहां शांति कायम हुई है और विकास की राह पर पूर्वोत्तर चल पड़ा है।

श्री अमित शाह ने कहा- मोरारजी देसाई अंतिम पीएम थे, जिन्होंने पूर्वोत्तर में एनईसी की बैठक में भाग लिया था। 40 साल बाद पीएम मोदी के रूप में कोई प्रधानमंत्री शिलांग में हुई बैठक में शामिल हुआ। श्री अमित शाह ने यह भी कहा कि मोदी जी ने अपने मंत्रियों को हर पखवाड़े उत्तर-पूर्व की यात्रा करने का निर्देश दिया था। ऐसा मुद्दों पर ध्यान देने और उन्हें हल करने के लिए किया गया था। पूर्वोत्तर के सभी हिस्से अब वायुमार्ग और रेलवे से जुड़े हुए हैं। अरुणाचल प्रदेश की सड़कों के विकास के लिए सरकार ने 50,000 करोड़ रुपये दिए हैं।

श्री अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी पार्टी को आड़े हाथों लिया। श्री शाह ने कहा कि एयर स्ट्राइक के बाद पूरे देश में खुशी थी, लेकिन पाकिस्तान और राहुल गांधी के चेहरे पर मातम था। उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी के गुरु सैम पित्रोदा कहते हैं कि एयरस्ट्राइक क्यों की, इनसे बात करनी चाहिए थी। लेकिन हमारी सरकार आतंकियों से कभी बात नहीं करेगी।’

श्री अमित शाह ने आगे कहा कि पाकिस्तान के आतंकवादी पहले भी देश में हमला किया करते थे, लेकिन कांग्रेस की सरकारें कुछ नहीं करती थीं। नरेंद्र मोदी की सरकार ने पाकिस्तान को मुहंतोड़ जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि जब पुलवामा में आतंकी हमला हुआ तो देश में करारा जवाब देने की मांग उठ रही थी। पाकिस्तान सोच रहा था कि भारत एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक करेगा, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना को एयर स्ट्राइक करने का आदेश दिया और पाकिस्तान ने जो बॉर्डर पर टैंक कर बिछाए हुए थे, वह तैयारी फेल हो गई थी।

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, सन् 1962 में चीन ने भारत पर आक्रमण किया और अरुणाचल ने डटकर उसका सामना किया और चीन को खदेड़ना का काम किया। तब के प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कहा था कि गुड बाय अरुणाचल प्रदेश। उन्होंने कहा कि पूरे देश की जनता ने तय किया है कि अगली सरकार नरेंद्र मोदी की होगी। श्री शाह ने यहां वादा किया कि सरकार बनने के बाद वह अरुणाचल प्रदेश में नया एम्स बनाएंगे।

नागपुर (महाराष्ट्र )

‘भाजपा सरकार आतंकवाद का मुंहतोड़ जवाब देती है’

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 9 अप्रैल को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आतंकवादियों के साथ सिर्फ ‘इलू-इलू’ कर सकते हैं, जबकि बीजेपी सरकार उनको मुंहतोड़ जवाब देती है। श्री शाह ने यह बात महाराष्ट्र के नागपुर में एक रैली को संबोधित करने के दौरान कही। श्री शाह ने इसके साथ यह भी कहा कि राहुल गांधी को याद रखना चाहिए कि भाजपा सत्ता में है और वह आंतकवादियों को उसी के भाषा में जवाब देने में विश्वास रखती है।

श्री शाह ने कहा, “पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आतंकवादियों के कैंप पर एयर स्ट्राइक के बाद राहुल गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस पार्टी शोक मना रही थी, लेकिन मैं उनको बताना चाहता हूं कि अगर आप आतंकवादियों के साथ इलू-इलू करने चाहते हैं तो आपको यह याद रखना चाहिए कि बीजेपी इस समय केंद्र की सत्ता में है। भाजपा आतंकवादियों को उसी के भाषा में जवाब देने में विश्वास रखती है।”

श्री अमित शाह ने इसके साथ ही राहुल गांधी पर हिंदुओं को बदनाम करने का भी आरोप लगाया। श्री शाह ने कहा, ‘राहुल गांधी ने पूरे दुनिया में हिंदू समुदाय को बदनाम करने का काम किया है। उन्हें इसके लिए चुनाव से पहले हिंदुओं से माफी मानना चाहिए।’

कांग्रेस अध्यक्ष पर चुटकी लेते श्री शाह ने कहा, “यह राहुल बाबा अपने गठबंधन के लिए केरल के अंदर ऐसी सीट पर जाकर खड़े जुलूस निकालते है, तो भारत है या पाकिस्तान का जुलूस है। मालूम ही नहीं पड़ता, ऐसी जगह जाकर खड़े हैं।”

जम्मू-कश्मीर पर श्री शाह ने कहा, ‘उमर अब्दुल्ला कह रहे हैं कि कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री होना चाहिए। मैं राहुल गांधी और उमर अब्दुल्ला को बताना चाहता हूं कि कश्मीर भारत से कभी अलग नहीं हो सकता, चाहे बीजेपी सत्ता में रहे या ना रहे।’

कासगंज (उत्तर प्रदेश)

‘एक-एक घुसपैठिए को देश से बाहर कर देंगे’

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पटियाली में 11 अप्रैल को सपा, बसपा एवं कांग्रेस पर जमकर निशाने साधे। एयर स्ट्राइक का जिक्र करते हुए कहा मौनी बाबा का शासन था, तो दुश्मन सिर काट कर ले जाते थे। मोदी सरकार ने पुलवामा हमले के 13वें दिन पाक में जाकर जवाब दिया। यह गठबंधन चुनाव के बाद तार-तार हो जाएगा। अबकी सरकार बनी तो देश से घुसपैठियों को खदेड़ देंगे।

श्री अमित शाह ने पार्टी प्रत्याशी सांसद श्री राजवीर सिंह के समर्थन में सभा को संबोधित करने से पहले माइक पर भारत माता के जयकारे लगवाए। इसके बाद तुलसीदास, भगवान वराह व एटा-कासगंज के बारे में कहा कि बंदी के कगार पर पहुंचे घुंघरू-घंटी उद्योग को सरकार ने संजीवनी दी है। एटा के मेडिकल कॉलेज की उपलब्धि गिनाईं। उन्होंने कहा कि चुनाव में दो खेमे हैं- एक तरफ मोदी और दूसरी तरफ विपक्ष। बुआ-भतीजे का गठबंधन कांग्रेस को स्वीकार नहीं कर रहा है। वर्षों तक एक-दूसरे का चेहरा न देखने वाले अब साथ हैं। चुनाव के बाद यह गठबंधन तार-तार होने वाला है। जातिवादी पार्टी देश का भला नहीं कर सकतीं। भाजपा ने शौचालय दिए। घर दिए। गैस चूल्हा दिए, मगर जाति नहीं पूछी। सत्ता मांगने वाली सपा-बसपा अपने 15 वर्ष के शासन की तुलना भाजपा सरकार से कर लें। इनकी सरकारों में पलने वाले गुंडे एनकाउंटर के डर से आत्मसमर्पण कर रहे हैं। हमने ‘निजाम’ यानी नसीमुद्दीन सिद्दीकी, इमरान मसूद, आजम खान, अतीक अहमद और मुख्तार अंसारी से मुक्ति दिलाई है। पांच वर्ष और मोदी जी को मिल जाएं तो भारत महाशक्ति बन जाएगा। इसके लिए जात-पात को भूलकर वोट करना होगा।

उन्होंने आश्वासन दिया कि किसानों को ब्याज मुक्त ऋण देंगे। 60 वर्ष की उम्र होने पर किसानों को पेंशन देंगे। एयर स्ट्राइक पर उन्होंने कहा कि देश भर में जश्न मना, लेकिन दो जगह मातम था, पाक व उसके साथी विपक्षी खेमे में। घुसपैठिए चिन्हित करने पर अजीत सिंह रोते हैं, लेकिन हमें फर्क नहीं पड़ता। वोट की अपील करते हुए कहा कि घर जाकर 50-50 लोगों को फोन करें। श्री शाह ने वंदे मातरम के साथ अपनी बात को खत्म किया।

सिलीगुड़ी (पश्चिम बंगाल)

‘सत्ता में लौटने पर देशभर में लागू करेंगे एनआरसी’

भाजपा केंद्र की सत्ता लौटने पर जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को हटा देगी और देशभर में नागरिकों के लिए एनआरसी लागू करेगी। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने दार्जिलिंग से पार्टी प्रत्याशी राजू विष्ट के समर्थन में 11 अप्रैल को कलिम्पोंग में आयोजित चुनावी सभा में यह दावा किया। उन्होंने एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की आलोचना करते हुए कहा- ‘ममता और विपक्षी नेता एयर स्ट्राइक से नाखुश हैं।

वे सिर्फ अल्पसंख्यक समुदाय को खुश करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। एयर स्ट्राइक से दो जगह मातम था- एक पाकिस्तान और दूसरा ममता बनर्जी के कार्यालय में।’ श्री शाह ने ममता से कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री की मांग पर अपना रूख स्पष्ट करने को कहा। श्री शाह ने कहा- ‘हम ममता की तरह घुसपैठियों का वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल नहीं करते। हमारे लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सर्वोपरि है। हम सुनिश्चित करेंगे कि देश के हरेक हिंदू एवं बौद्ध शरणार्थी को नागरिकता मिले।’

मुख्यमंत्री सुश्री ममता बनर्जी द्वारा प्रस्तावित महागठबंधन पर निशाना साधते हुए श्री शाह ने कहा-’मुझे हैरत होती है कि कांग्रेस और माकपा क्यों तृणमूल की आलोचना कर रही हैं जबकि वह उनके सहयोगी हैं।’ वहीं रायगंज की चुनावी सभा में बांग्लादेशी घुसपैठियों को ‘दीमक’ बताते हुए श्री शाह ने कहा कि उनकी पार्टी सत्ता में आने पर घुसपैठियों को देश से बाहर निकालेगी।

भाजपा अध्यक्ष ने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस तुष्टिकरण, माफियागीरी और चिटफंड घोटालों में लगी है। घुसपैठिये दीमक की तरह हैं। वे अनाज खा रहे हैं, जो गरीबों को जाना चाहिए। वे हमारी नौकरियां छीन रहे हैं। ‘टीएमसी’ (तृणमूल कांग्रेस) के ‘टी’ का मतलब ‘तुष्टीकरण’, ‘एम’ का मतलब ‘माफिया’ और ‘सी’ का मतलब चिटफंड है। सत्ता में आने के बाद भाजपा इन दीमकों का पता लगाकर उन्हें देश से बाहर निकालेगी। श्री शाह ने आगे कहा-’प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुरू से ही गोरखाओं के साथ हैं। ममता बनर्जी ने पहाड़ की शांति को भंग करने के साथ ही उसे तबाह कर दिया है। बंगाल की जनता अब परिवर्तन के लिए तैयार है।