‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’ दुश्मन के लिए वज्र के समान होगा : अमित शाह


केंद्रीय गृहमंत्री और भाजपा अध्यक्ष श्री अमित शाह ने एकलव्य स्टेडियम, जींद (हरियाणा) में 16 अगस्त को आयोजित आस्था रैली में अपना भारत माता की जय के साथ अपना संबोधन शुरू किया। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदीजी ने देश की जनता और सरदार बल्लभ पटेल के सपने को पूरा किया है। मोदी सरकार ने देश को एक किया और जम्मू-कश्मीर से 370 हटाकर वहां विकास की राह खोली। उन्होंने ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’ को देश की सुरक्षा को मजबूत करने वाला कदम बताया। उन्होंने कहा कि यह ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’ दुश्मन के लिए वज्र के समान होगा।

उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 कांग्रेस की वोट बैंक की राजनी‍ति के कारण बची हुई थी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीजी वोट बैंक की राजनीति नहीं करते और उनको बस मां भारती की परवाह है। यही कारण है कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करने का निर्णय किया। उन्होंने कहा कि मोदीजी ने 75 दिनों में वह कर दिखाया जो देश में 70 साल में नहीं हुआ था।

श्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ’ की नियुक्ति का बड़ा कदम उठाया है। यह देश की सुरक्षा के लिए बहुत बड़ा कदम है। इससे देश की तीनों सेनाएं बेहतर तालमेल से काम कर सकेंगी। यह दुश्मन के लिए वज्र के समान साबित होगा। अमित शाह ने देश और हरियाणा के लिए मोदी सरकार द्वारा किए गए कार्यों का ब्योरा भी दिया।

श्री शाह ने कहा, आज कश्मीर से कन्याकुमारी तक एकसूत्र में बंध चुका है। मोदीजी ने मां भारती का गौरव बढ़ाया है। आज पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की आत्मा ऊपर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए आशीर्वाद दे रही होगी।

श्री शाह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल की भी जमकर तारीफ की और हरियाणा की भाजपा सरकार द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि जाति व वर्ग की राजनीति करने वाले नेताओं ने हरियाणा में नफरत और भेदभाव का माहौल बना रखा था। मनोहरलाल की सरकार ने इसे खत्म कर पूरे राज्य का समान विकास कराया और जनता में उम्मीद की लौ जलाई।

उन्होंने कांग्रेस और चौटाला परिवार पर जमकर हमले किए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और चौटाला परिवार ने हरियाणा का सत्यानाश किया। मनोहरलाल की सरकार ने नौकरियों में भेदभाव और भ्रष्टाचार खत्म किया। उन्होंने राज्य में केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा उठाए गए कदमों का भी उल्लेख किया। श्री अमित शाह ने कहा कि हम हरियाणा में होने वाले विधानसभा चुनाव में 75 से अधिक सीटें जीतने का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं और मुझे पूरी उम्मीद है कि जनता हमें इसके अनुरूप कामयाब बनाएगी।

कांग्रेस नेताओं को चुनौती देते हुए कहा कि वह विकास के लिए खर्च पैसों का हिसाब किताब और आंकड़े लेकर जनता के बीच जाएं, हमारे मुख्यमंत्री उनसे बहस करने को तैयार हैं। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा और चौटाला सरकारों पर उठाए सवाल। उन्होंने कहा, पूर्व सरकारों में हरियाणा जमीन के व्यापार के लिए जाना जाता था। सरकारें बिल्डरों के हाथ में कठपुतलियां बनकर खेलती थी और नौकरियां व्यवसाय थीं। लेकिन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सरकार ने भ्रष्टाचार को भूतकाल बना दिया है।

श्री शाह ने कहा कि हरियाणा से सभी लालों के जाने के बाद हमारा लाल (मनोहरलाल) आया है। हरियाणा में अब जातिवाद खत्म हो चुका है। तबादलों में पारदर्शिता लाकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जनता को भारी राहत दी। लिंगानुपात में सुधार हो या ऑनलाइन तबादले या आशा वर्करों और आंगनबाड़ी वर्करों के मानदेय में इजाफा, मनोहर सरकार ने शानदार काम किया है।

उन्होंने कहा कि हुड्डा की सरकार में जहां 13वें वित्त आयोग ने हरियाणा को सिर्फ 22 हजार करोड़ रुपये दिए थे वहीं मनोहर की सरकार के बेहतरीन काम को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 58 हजार करोड़ रुपये 14वें वित्त आयोग से हरियाणा काे दिलवाए। रैली में हरियाणा भाजपा की ओर से अमित शाह को सदस्यता अभियान की एक क्विंटल वजन के बराबर फार्म भेंट किया।

पूर्व केंद्रीय मंत्री व रैली के आयोजक श्री बीरेंद्र सिंह, हरियाणा के परिवहन मंत्री कृष्णलाल पंवार, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला, राज्य के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा, कैबिनेट मंत्री कविता जैन, कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ और राज्यमंत्री मनीष ग्रोवर भी रैली में मौजूद थे।