महाराष्ट्र के कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर का निधन

महाराष्ट्र के कृषि मंत्री श्री पांडुरंग फुंडकर का 31 मई को मुंबई में तड़के चार बजे दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। 67 वर्षीय श्री फुंडकर प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता थे। वे जुलाई 2016 में देवेंद्र फडणवीस सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल हुए। उससे पहले वे साल 1991 से लेकर 1996 तक दो बार महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष रहे। वह 1978 में पहली बार विधायक चुने गए और साल 1980 में फिर से खमगांव विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। वे तीन बार अकोला से सांसद चुने गए। श्री फुंडकर महाराष्ट्र विधान परिषद में विपक्ष के नेता भी रहे।

श्री फुंडकर के निधन पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी। श्री मोदी ने लिखा कि महाराष्ट्र सरकार में कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर के निधन से स्तब्ध हूं। उन्होंने महाराष्ट्र में भाजपा के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान दिया। वह राज्य के किसानों की सेवा के लिए हमेशा आगे रहे। मेरी संवेदना उनके परिवार और समर्थकों के साथ है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने ट्वीट कर अपनी शोक संवेदना में लिखा कि महाराष्ट्र के कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर के अचानक निधन की खबर सुनकर बहुत दुःख हुआ। वह तीन बार अकोला से सांसद रहे। भाऊसाहेब फुंडकर राज्य में भाजपा के विस्तार हेतु अनथक कार्य किया। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं।

मुख्यमंत्री श्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर का अचानक दु:खद निधन हुआ। इसका हमें दु:ख है। उनके निधन से भाजपा परिवार का नुकसान हुआ है। वह राज्य के विकास में एक शिल्पकार के रूप में देखे जाते थे। जिन चंद लोगों ने भाजपा को गांव-गांव तक पहुंचाया उसमें फुंडकर का भी योगदान रहा है।