अप्रैल 2019 में जीएसटी का सर्वाधिक संग्रह


      कुल राजस्व संग्रह 1,13,865 करोड़ रुपये के रिकॉर्ड स्तर पर

प्रैल महीने में वस्तु एंव सेवा कर – जीएसटी का कुल राजस्व संग्रह 1,13,865 करोड़ रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया। इसमें केंद्रीय जीएसटी संग्रह 21,163 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी (एसजीएसटी) 28,801 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी 54,733 करोड़ रुपये (आयात पर एकत्रित 23,283 करोड़ रुपये सहित) और 9168 करोड़ रुपये उपकर (आयात पर एकत्रित 1053 करोड़ रुपये सहित) रहा। 30 अप्रैल तक मार्च महीने के लिए कुल 72.13 लाख संक्षिप्त बिक्री रिटर्न जीएसटीआर-बी दायर किए गए।

सरकार ने नियमित निपटान के तहत आईजीएसटी से 20,370 करोड़ रुपये का सीजीएसटी और 15,975 करोड़ रुपये का एसजीएसटी का निपटान किया। इसके अलावा केंद्र के पास अस्थायी आधार पर बचे 12 हजार करोड़ रुपये के आईजीएसटी का 50:50 अनुपात में केंद्र और राज्यों के बीच निपटान किया गया। नियमित और अस्थायी आधार पर किए गए निपटान के बाद अप्रैल 2019 में केंद्र और राज्य सरकारों को 47,533 करोड़ रुपये का सीजीएसटी राजस्व मिला, जबकि एसजीएसटी राजस्व 50,776 करोड़ रुपये रहा।

अप्रैल, 2018 में जीएसटी राजस्व 1,03,459 करोड़ रुपये था और अप्रैल, 2019 के दौरान प्राप्त जीएसटी राजस्व में पिछले साल के इसी महीने में अर्जित राजस्व की तुलना में 10.05 प्रतिशत की वृद्धि हुई। अप्रैल, 2019 में अर्जित जीएसटी राजस्व वित्त वर्ष 2018-19 में जीएसटी राजस्व के मासिक औसत (98,114 करोड़ रुपये) से 16.05 प्रतिशत अधिक है।