अयोध्या फैसले पर समाचार–पत्रों की सुर्खियां


असली मालिक रामलला, मंदिर यहीं बनेगा
– अमर उजाला

विवादित भूमि अब रामलला की, मस्जिद को अलग जमीन
– राजस्थान पत्रिका

राममंदिर का रास्ता साफ
– हिन्दुस्तान

मंदिर वहीं, मस्जिद नई
– नवभारत टाइम्स

रामजन्मभूमि पर मंदिर, वैकल्पिक जमीन पर मस्जिद बनाने के आदेश
– दैनिक ट्रिब्यून

मंदिर वहीं बनेगा, मस्जिद को जमीन
– राष्ट्रीय सहारा

वहीं बनेगा मंदिर
– दैनिक जागरण

विदेशी मीडिया की नजर में

श्रीराम जन्मभूमि से जुड़े भूमि विवाद में सर्वोच्च न्यायालय का ऐतिहासिक फैसला पूरी दुनिया में सुर्खियां बना। इस फैसले पर विश्व के कई मुख्य अखबारों और न्यूज चैनलों ने अपने विचार प्रस्तुत किए।

भाजपा वर्षों से अयोध्या में राम मंदिर बनाने का वादा करती रही है। ऐसे में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में पार्टी की यह बड़ी जीत है।
-द एक्सप्रेस ट्रिब्यून, पाकिस्तानी समाचार पत्र

भाजपा अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए सालों से प्रचार करती आई है और अब मंदिर के पक्ष में फैसला आना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में एक बड़ी जीत होगी।
— अलजजीरा

दोबारा सत्ता में आने के बाद भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी पार्टी के लिए यह ऐतिहासिक फैसला है। यह उनकी बड़ी कामयाबी है।
— द गार्जियन

भारतीय सर्वोच्च न्यायालय ने ऐतिहासिक फैसला देते हुए विवादित भूमि पर मंदिर बनने का रास्ता साफ कर दिया है। मुस्लिम पक्ष को अलग से पांच एकड़ भूमि देने का भी आदेश दिया गया है।
— वाशिंगटन पोस्ट

भारतीय कोर्ट ने अयोध्या विवाद में हिंदुओं के पक्ष में फैसला सुनाया।
— न्यूयॉर्क टाइम्स