‘एकात्म मानववाद का दर्शन न केवल भारत अपितु सम्पूर्ण विश्व की समस्याओं का समाधान करने में सक्षम है’


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने 11 फरवरी को नई दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में देश को अंत्योदय व एकात्म मानववाद की दृष्टि देने वाले, जनसंघ के संस्थापक एवं पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए प्रेरणा स्रोत पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि के अवसर पर भाजपा मुख्यालय में उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) श्री बी एल संतोष, राष्ट्रीय महासचिव श्री अरुण सिंह, भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया सह-प्रमुख श्री संजय मयूख, कार्यालय सचिव श्री महेंद्र पांडेय सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी को श्रद्धांजलि दी।

इस अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं और पत्रकारों को संबोधित करते हुए श्री नड्डा ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय के विचारों व सिद्धांतों के बीज ने देश को एक वैकल्पिक विचारधारा दी और सांस्कृतिक राष्ट्रवाद एवं अंत्योदय के सिद्धांत पर एक नए भारत की कल्पना की थी। उनका पूरा जीवन जन-कल्याण, राष्ट्र के उत्थान और संस्कृति के संरक्षण के प्रति समर्पित रहा।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने सबसे पहले देश, उसके बाद पार्टी और अंत में मैं के सिद्धांत की राजनीति से कार्यकर्ताओं को संस्कारित करने का काम किया। उनका एकात्म मानववाद का दर्शन न केवल भारत अपितु सम्पूर्ण विश्व की समस्याओं का समाधान करने में सक्षम है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के सपनों को अक्षरशः चरितार्थ करने का काम कर रही है। सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के साथ मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी अंत्योदय और सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के सिद्धांत पर माँ भारती की सेवा में अहर्निश लगी हुई है।