इस बार प्रदेश में हम अच्छी सफलता प्राप्त करेंगे


                                                              शक्ति केंद्र एवं बूथ प्रमुख सम्मेलन, तमिलनाडु

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 14 फरवरी को इरोड, तमिलनाडु में टैक्सवैली के पास मैदान में शक्ति केंद्र एवं बूथ प्रमुखों के सम्मेलन को संबोधित किया और कार्यकर्ताओं से केंद्र में एक बार फिर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार बनाने की अपील की। इससे पहले उन्होंने टैक्सवैली के कांफ्रेंस हॉल में हैंडलूम और पावरलूम एसोसिएशन के साथ एक बैठक किया और मोदी सरकार की उपलब्धियों पर विस्तार से चर्चा की।

श्री शाह ने ‘भारत के मन की बात, मोदी के साथ’ कार्यक्रम के तहत आज इरोड में हैंडलूम और पावरलूम एसोसिएशंस और बुनकरों के साथ उनकी समस्याओं पर बात की और उनके सुझावों को एकत्रित किया। उन्होंने विश्वास दिलाया कि इन सभी सुझावों को भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र में शामिल किया जाएगा और केंद्र में फिर से आने वाली मोदी सरकार इन सभी समस्याओं का समाधान कर उद्योग को एक नई दिशा देने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी एकमात्र ऐसी राजनीतिक पार्टी है जो लोगों की समस्याओं को अपने घोषणापत्र में स्थान देती है और इन समस्याओं को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए कार्य करती है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि देश में दो राजनीतिक खेमे हैं। एक ओर कांग्रेस और उसके सहयोगियों का तथाकथित महागठबंधन है जिसका न कोई नेता है, न नीति और न ही कोई सिद्धांत, वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा-नीत एनडीए है जिसका एक ही मूलमंत्र है – सबका साथ, सबका विकास। स्टालिन पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि डीएमके नेता स्टालिन कभी राहुल गांधी को नेता स्वीकार करते हैं, तो कभी पार्टी कार्यकर्ताओं के विरोध के कारण राहुल गांधी को नेता स्वीकार नहीं करते, मुझे तो समझ ही नहीं आ रहा कि स्टालिन चाहते क्या हैं। उन्होंने कहा कि डीएमके और कांग्रेस का गठबंधन स्कैम और करप्शन का एलायंस है जो केवल भ्रष्टाचार और सत्ता प्राप्ति के लिए किया गया है, जबकि एनडीए देश की समृद्धि, सुरक्षा और लोक-कल्याण का गठबंधन है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हमारा CSR है कॉर्पोरेट सोशल रेस्पांसिबिलिटी जबकि डीएमके-कांग्रेस और तथाकथित महागठबंधन का CSR है करप्शन और स्कैम राज। उन्होंने तमिल नाडु की जनता को विश्वास दिलाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी जल्द ही एक मजबूत गठबंधन के साथ तमिल नाडु में सामने आयेगी और भाजपा गठबंधन राज्य की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगा।