शिवराजजी के नेतृत्व में मध्यप्रदेश ‘बीमारू’ से ‘विकसित’ बना है

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 18 नवंबर को मध्य प्रदेश के सिंगरौली, उमरिया और चुरहट में आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और राज्य की जनता से विकास के लिए शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश में लगातार चौथी बार भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने की अपील की।

कांग्रेस में परिवारवाद और वंशवाद की विष-बेल पर निशाना साधते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस में किसी भी प्रदेश का सेनापति तय नहीं होता, सेनापति केवल राष्ट्रीय स्तर पर तय होता है। वह भी केवल एक परिवार में जन्म लेने भर से। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी नेहरू-गांधी परिवार की प्राइवेट लिमिटेड कंपनी है जिस पर एक परिवार के सिवा किसी और का अधिकार कभी नहीं हो सकता।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कांग्रेस को एक गैर नेहरू-गांधी परिवार के सदस्य को पार्टी का अध्यक्ष बनाने की चुनौती देने वाले बयान से कांग्रेस पार्टी के कई रागदरबारियों को तीखी मिर्ची लगी है, जो अपनी ‘वफादारी’ साबित करने के लिए सीमारेखा से बाहर हो रहे हैं। स्पष्ट है कि प्रधानमंत्री जी के सटीक निशाने ने एक दुखती रग पर करारा प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी का बयान बिलकुल सही है क्योंकि इतिहास गवाह है कि ‘एक परिवार’ की पूजा के कारण कांग्रेस पार्टी में कई बड़े नेताओं के साथ न केवल दुर्व्यवहार किया गया, बल्कि साजिश कर उन्हें दरकिनार भी किया गया।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि एक राजा, एक महाराजा और एक उद्योगपति की तिकड़ी मध्य प्रदेश का भला कभी नहीं कर सकती, क्योंकि उन्होंने तो महलों के बाहर की जिंदगी कभी देखी ही नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारे नेता प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने तो गरीबी को जिया है, इसे महसूस किया है और श्री शिवराज सिंह चौहान गरीब किसान परिवार में जन्म लेकर यहां तक पहुंचे हैं। इसलिए हमारी सभी योजनाओं के केंद्र में देश के गांव, गरीब, किसान, दलित, पीड़ित, युवा एवं महिलायें ही हैं। हमारा लक्ष्य ‘अंत्योदय’ के सिद्धांत पर चल कर ‘सबका साथ, सबका विकास’ करना है। उन्होंने कहा कि श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में मध्य प्रदेश ‘बीमारु’ से ‘विकसित’ बना है। अगले पांच सालों में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की अगुआई में श्री शिवराज जी प्रदेश को ‘समृद्ध’ बनाने के लिए दृढ़संकल्पित हैं।

भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी का बस एक ही काम रह गया है – झूठ बोलना, बार-बार झूठ बोलना और सार्वजनिक रूप से झूठ बोलना। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी हमसे चार सालों के कार्यकाल का हिसाब मांग रहे हैं, जबकि मध्य प्रदेश की जनता कांग्रेस से 55 साल के कार्यकाल का हिसाब मांग रही है। उन्होंने कहा कि 13वें वित्त आयोग के दौरान कांग्रेस की सोनिया-मनमोहन सरकार ने मध्य प्रदेश को विकास के लिए महज लगभग 1,34,190 करोड़ रुपये की राशि दी थी, लेकिन मोदी सरकार ने 14वें वित्त आयोग में राज्य के लिए 3,44,126 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त मुद्रा बैंक योजना में लगभग 32,000 करोड़, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के लिए 984 करोड़, अमृत मिशन के लिए 2593 कोर्ड, स्वच्छ भारत मिशन के लिए 427 करोड़, अर्बन ट्रांसपोर्टेशन के लिए 22 करोड़, इंदौर मेट्रो के लिए 7000 करोड़, भोपाल मेट्रो के लिए 7000 कोर्ड, इंटीग्रेटेड को-ऑपरेटिव डेवलपमेंट के लिए 1794 करोड़ और प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए 4000 करोड़ रुपये, कुल 57,000 करोड़ रुपये अलग से मध्य प्रदेश को दिए गए हैं।