प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत मंजूर किए गए मकानों के निर्माण में 158 लाख मीट्रिक टन इस्पात होगी की खपत


केन्द्रीय आवास एवं शहरी मामले (स्वतंत्र प्रभार) और नागर विमानन राज्य मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत मंजूर किए गए सभी मकानों के निर्माण में लगभग 158 लाख मीट्रिक टन इस्पात और 692 लाख मीट्रिक टन सीमेंट की खपत होने की संभावना है।  

  • ‘आत्मनिर्भर भारत: आवास और निर्माण तथा विमानन क्षेत्र में इस्पात के उपयोग को प्रोत्साहन देना’ पर आयोजित वेबिनार को संबोधित करने हुए उन्होंने कहा कि लगभग 84 लाख मीट्रिक टन इस्पात और 370 लाख मीट्रिक टन सीमेंट की नींव डाले गए/पूरे हो चुके मकानों में अब तक खपत हो चुकी है।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत 1.07 करोड़ मकानों (1.12 करोड़ मकानों की मांग) के सापेक्ष 67 लाख मकानों की नींव रखी गई है और 35 लाख घर अभी तक सौंप दिए गए हैं। श्री पुरी ने कहा कि सभी स्वीकृति मकानों के निर्माण से लगभग 3.65 करोड़ रोजगारों का सृजन होगा। नींव डाले गए मकानों के निर्माण में अभी तक 1.65 करोड़ रोजगारों का पहले ही सृजन हो चुका है।