संसद देश के वीर जवानों के पीछे खड़ी है, ऐसा करना संसद की विशेष जिम्मेदारी: नरेन्द्र मोदी


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 14 सितम्बर को विश्वास जताया कि संसद एक स्वर में यह संदेश देगी कि वह हमारी सीमाओं की रक्षा करने वाले वीर सैनिकों के साथ एकजुटता से खड़ी है और ऐसा करना संसद की विशेष जिम्मेदारी भी है।   

  • मीडिया को दिये अपने बयान में श्री मोदी ने लद्दाख में चीन के साथ चल रहे सीमा गतिरोध के स्पष्ट संदर्भ में कहा कि भारतीय सैनिक दुर्गम पहाड़ी इलाकों में बहादुरी के साथ अपना कर्तव्य निभा रहे हैं। आने वाले समय में तो अब वहां बर्फबारी भी होनी है।
  • गतिरोध का जिक्र करते हुए श्री मोदी ने कहा कि इस संसद की और भी एक विशेष जिम्मेदारी है और खास तौर पर इस सत्र की विशेष जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि संसद और सदस्यों के माध्यम से पूरा देश एक स्वर से वीर जवानों के पीछे खड़ा है। ये बहुत ही मजबूत संदेश भी ये संसद देगा, सभी सदस्य देंगे। ऐसा मेरा पूरा विश्वास है।