अनतंनाग में भाजपा नेता गुल मोहम्मद मीर की हत्या


भाजपा के वरिष्ठ नेता श्री गुल मोहम्मद मीर की आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर के अनतंनाग जिले में 4 मई को गोली मारकर हत्या कर दी। श्री मीर अनंतनाग जिले में भाजपा के जिला उपाध्यक्ष थे। वह इलाके में ‘अटल’ के तौर पर मशहूर थे। उन्होंने 2008 और 2014 में दुरू विधान सभा से चुनाव भी लड़ा था।
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा नेता श्री गुल मोहम्मद मीर की हत्या की निंदा करते हुए कहा कि हिंसा के लिए देश में कोई स्थान नहीं है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘भाजपा के कश्मीरी नेता श्री गुलाम मोहम्मद मीर की हत्या की निंदा करता हूं। जम्मू-कश्मीर में पार्टी को मजबूत करने में उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।” उन्होंने लिखा ‘‘देश में इस तरह की हिंसा के लिए कोई स्थान नहीं है।”

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘मैं अनंतनाग में भाजपा नेता गुलाम मोहम्मद मीर की हत्या से दु:खी हूं। घाटी में पार्टी को मजबूत करने में उनका बड़ा योगदान है।” भाजपा अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘‘घाटी में चरमपंथी ताकतें भाजपा कार्यकर्ताओं का मनोबल हिंसा से नहीं तोड़ सकती हैं। शोक संतप्त परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं।”

जम्मू-कश्मीर भाजपा ने एक बयान में श्री मीर के परिवार के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त की और उन तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की, जो घाटी में शांति भंग रहे हैं और बेगुनाह लोगों की हत्या कर रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर राज्य भाजपा अध्यक्ष श्री रविंद्र रैना ने कहा कि उनकी हत्या देश के लिए एक बड़ा नुकसान है…वह एक बहादुर व्यक्ति थे जिन्होंने हमेशा पाकिस्तानी आतंकवादियों से लोहा लिया और अंतिम सांस तक मातृभूमि की सेवा की।

उन्होंने कहा कि मीर को अनंतनाग के अटल बिहारी वाजपेयी के रूप में जाना जाता था और वह भारत माता के एक महान सपूत थे। मारे गये नेता के साहस और उनकी देशभक्ति को सलाम करते हुये उन्होंने कहा कि मीर के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा।

भाजपा के राज्य प्रवक्ता श्री अल्ताफ ठाकुर ने कहा कि 60 साल के गुल मोहम्मद मीर पर आतंकियों ने हमला किया था। उन्होंने कहा कि मीर को चार गोलियां लगी थी।