केंद्रीय भंडारण निगम ने अब तक का सबसे अधिक कारोबार लगभग 1710 करोड़ रु. का किया


केंद्रीय भंडारण निगम (सीडब्ल्यूसी) ने 2019-20 के दौरान अब तक का सबसे अधिक कारोबार लगभग 1710 करोड़ रुपये का किया है।

  • सीडब्ल्यूसी के प्रबंध निदेशक श्री अरुण कुमार श्रीवास्तव ने 22 मई को केंद्रीय उपभोक्ता मामलों, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री श्री रामविलास पासवान को 35.77 करोड़ रुपये का लाभांश चेक सौंपा। श्री पासवान ने सीडब्ल्यूसी द्वारा अच्छा प्रदर्शन करने के लिए उसकी सराहना की।
  • सीडब्ल्यूसी ने वर्ष 2019-20 में अपनी चुकता पूंजी के लिए अंतरिम लाभांश 95.53% की घोषणा की है, जबकि पिछले वर्ष यह 72.20% थी। कुल लाभांश 64.98 करोड़ रुपये का हुआ है जिसमें भारत सरकार के हिस्से में 35.77 करोड़ रुपये आए है क्योंकि भारत सरकार के पास इसका 55% शेयर है। शेयरधारकों की आम वार्षिक बैठक में, वर्ष 2019-20 के लिए अंतिम लाभांश की घोषणा की जाएगी।