‘पार्टी की रीढ़ हैं बूथ कार्यकर्ता’


त्ता का उद्गम बूथ कार्यकर्ता है। मैं देवभूमि और देवतुल्य बूथ पदाधिकारियों को नमस्कार करता हूं। उम्मीद करता हूं कि 2022 के विस चुनाव में पूर्व से मजबूत होकर जीत दर्ज करेंगे। उक्त बातें भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने देहरादून में आयोजित बूथ सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही। इससे पूर्व भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में पहली बार देहरादून आने पर श्री जगत प्रकाश नड्डा का कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया।

गत 15 नवंबर को सुभाष रोड स्थित एक बैंक्वेट हाल में बूथ सम्मेलन का शुभारंभ सर्वश्री जगत प्रकाश नड्डा, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट एवं उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने दीप प्रज्जवलित कर किया। श्री नड्डा ने बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पहाड़ के लोगों की जीवन शैली देवतुल्य होती है इसलिए वे समाज को दृष्टि व दिशा देने में सक्षम होते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में भाजपा के 385 सांसद, 1451 विधायक और 15 राज्यों में सरकार है। भाजपा आज विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है, महज 54 दिनों के सदस्यता अभियान में सदस्यों की संख्या 11 करोड़ से बढ़कर 17 करोड़ हो गई। उत्तराखंड में भी 11 लाख से बढ़कर 17 लाख सदस्य हो गए। यह सब बूथ कार्यकर्ता की मेहनत से ही संभव हो सका।

श्री नड्डा ने कार्यकर्ताओं को समझाने वाले लहजे में कहा कि राजनीति में दो कार्यकर्ता होते हैं दूरगामी और तात्कालिक। तात्कालिक में छोटे इरादे और छोटे लक्ष्य देखे जाते हैं जबकि दूरगामी में पार्टी और देश की सेवा देखी जाती है। बूथ कार्यकर्ता नजदीक का चश्मा उतारकर दूर का पहन ले। ध्यान रखे कि उनकी उंगली से दबाने से कोई नेता नहीं, बल्कि देश की तकदीर और तस्वीर बदलती है। नेशन फर्स्ट-पार्टी सेकेंड कहने से नहीं करने से होता है इसलिए मजबूत सरकार बनाने में योगदान दे ताकि देश मजबूत हो। उन्होंने कहा कि राजनीति में बाई च्वाइस, बाई एक्सीडेंट, बाई चांस आते हैं लेकिन ईश्वर की कृपा है कि वे सब भाजपा में ही आए। भाजपा में अब सिर्फ इन कमिंग ही इन कमिंग है, आउट गोइंग नहीं है। यह बूथ कार्यकर्ताओं की ही ताकत का परिणाम है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की कूटनीति ही है कि सऊदी अरब और ईरान, अमेरिका और चीन दोनों भारत के मित्र हैं। इसी तरह श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी प्रदेश में पारदर्शी सरकार बनाई है। यहां विकास कार्यों में तेजी आई है, 17 लाख परिवारों को आयुष्मान से जोड़ा यही डबल इंजन है। अंत में कार्यक्रम स्थल में मौजूद कार्यकर्ताओं से भाजपा की विचारधारा से जुड़कर आगे बढ़ने पर जोर दिया।

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने हरिद्वार, अल्मोड़ा, बागेश्वर, चंपावत, चमोली के कार्यालय का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि भाजपा पांच ‘क’ कार्यकर्ता, कार्यक्रम, कार्यकारिणी, कोष और कार्यालय से चलती है। अब भाजपा के हर जिले में कार्यालय है। इस कार्यालय में कांफ्रेंस हाल, मिनी मीटिंग हाल, कंप्यूटराइज्ड आफिस होगा। जो पार्टी कार्यकर्ताओं की सभी दस्तावेजों की भी देखभाल करेगा।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि किसी भवन की मजबूती उसकी मजबूत नींव पर निर्भर करती है। बूथ सदस्यों की बदौलत छह लाख नए सदस्य जुड़कर कुल संख्या 11 से 17 लाख हो गई। बूथ कार्यकर्ताओं के दम पर ही विस चुनाव में चार फीसदी वोट प्रतिशत बढ़ा। 11 जिपं अध्यक्ष इनमें नौ पर महिलाएं हैं। जब महिलाएं आर्थिक सशक्त होंगी तो प्रदेश का विकास होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में 21 से 30 साल के क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत सदस्य जीते। कई ब्लॉक प्रमुख बने इस तरह उत्तराखंड की राजनीति आज जवान हो गई। यह जवान पीढ़ी प्रदेश के विकास को धार देगी।

प्रदेश प्रभारी श्री श्याम जाजू ने भाजपा कार्यालय के सभागार को स्व. प्रकाश पंत सभागार का नाम देने पर खुशी जताई। उन्होंने कहा कि हरिद्वार के एक संत ने उनसे कहा कि लोस चुनाव में दिए वोट की स्याही का धब्बा नहीं हटा और सरकार ने 370 का धब्बा हटा दिया। प्रधानमंत्री मोदी जी की बदौलत ही राम मंदिर, करतारपुर कोरिडोर में दर्शन करने श्रद्धालु जा रहे हैं, यह तभी संभव है जब मजबूत सरकार है और मजबूत सरकार बूथ कार्यकर्ताओं ने ही दी।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष श्री अजय भट्ट ने कहा कि पार्टी की रीढ़ बूथ कार्यकर्ता है, बूथ ही असली भाजपा है। उन्होंने कहा कि पहले दबिश जाने पर पुलिस फरियादी से खर्च मांगती थी अब ऐसा नहीं है। हर थाने को बजट दिया गया है। श्री भट्ट ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने ही बिना अधिकारियों के पास जाए घर-घर दुकान-दुकान जाकर 25 करोड़ का कोष जुटा दिया, जो कि एक उपलब्धि है।