राज्य में लगातार चौथी बार कमल खिलने वाला है : अमित शाह

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 17 नवंबर को छत्तीसगढ़ के पत्थलगांव (जशपुर), चपले खरसिया (रायगढ़) और धमतरी में आयोजित विशाल जनसभाओं को संबोधित किया और राज्य की जनता से ‘नवा छत्तीसगढ़, समृद्ध छत्तीसगढ़’’ बनाने के लिए श्री रमण सिंह के नेतृत्व में दो-तिहाई से अधिक बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने की अपील की।

श्री शाह ने कहा कि प्रथम चरण के मतदान में भारतीय जनता पार्टी के प्रति छत्तीसगढ़ की जनता के प्यार और आशीर्वाद से निश्चित है कि राज्य में लगातार चौथी बार कमल खिलने वाला है। कांग्रेस पार्टी ने तो चुनाव से पहले ही हार स्वीकार कर ली है, क्योंकि छत्तीसगढ़ की जनता ने राज्य की विकास-गाथा को आगे बढ़ाने के लिए श्री रमण सिंह के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का निश्चय कर लिया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी समस्याओं का समाधान कर जनता के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के लिए काम करने वाली पार्टी है, जबकि कांग्रेस जनता को समस्याओं में झोंकने वाली पार्टी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक ऐसी एटीएम है जिसमें सवाल डालने पर केवल झूठ ही बाहर आता है, क्योंकि कांग्रेस की सरकारों ने झूठे वादे करने के सिवाय जनता की भलाई के लिए कभी कोई कार्य किया ही नहीं।

नक्सलवाद पर एक कांग्रेस नेता के बयान की तीखी आलोचना करते हुए श्री शाह ने कहा कि नक्सलवाद को क्रांति का माध्यम समझने वाली पार्टी छत्तीसगढ़ का कोई भला नहीं कर सकती। राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी को नक्सलवाद में क्रांति दिखाई देती है। बम धमाकों में क्रांति दिखाई पड़ती है लेकिन हमें गरीब के घर में बिजली, भोजन और स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने में क्रांति दिखाई देती है। उन्होंने सभा में उपस्थित जनता से पूछते हुए कहा कि राज्य से नक्सलवाद का सफाया होना चाहिए या नहीं तो जनता ने एक स्वर में उद्घोष किया कि नक्सलवाद का जड़ से खात्मा होना ही चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में अर्बन माओवादी पकड़े गए, तो कांग्रेस पार्टी इसे अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला बताने लगी लेकिन कांग्रेस पार्टी को यह मालूम होना चाहिए कि जवानों को मारना, रेल की पटरियों को उखाड़ना, सड़कों को तोड़ना, पत्रकारों की हत्या करना, देश के प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचना और बम धमाके करना कभी भी अभिव्यक्ति की आजादी नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने नक्सलवाद को संरक्षण दिया, जबकि रमण सिंह सरकार इसे ख़त्म कर राज्य में विकास की बयार लाना चाहती है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि गरीबों के लिए काम करने वाली सरकारें कैसी होती है, यह मोदी सरकार एवं रमन सिंह सरकार ने कर के दिखाया है और प्रदेश की जनता भी इसे बखूबी महसूस कर रही है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ देश का सबसे पहला बिजली सरप्लस राज्य बना है। सीमेंट उत्पादन में भी छत्तीसगढ़ काफी आगे है। शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल, इन्फ्रास्ट्रक्चर – सभी क्षेत्रों में रमन सिंह सरकार ने प्रगति के नए आयामों को छुआ है। उन्होंने कहा कि श्री रमन सिंह जी ने छत्तीसगढ़ का चहुंमुखी विकास कर राज्य को ‘बीमारू’ से ‘विकसित’ प्रदेश बनाया है, अगले पांच सालों के लिए जनता का आशीर्वाद मिलने पर भारतीय जनता पार्टी सरकार ‘नवा छत्तीसगढ़’ के संकल्प को साकार करने के लिए समृद्ध छत्तीसगढ़ का निर्माण करेगी। उन्होंने कहा कि एक तरफ कांग्रेस पार्टी है जिसका काम है – झूठ बोलना, जोर से बोलना और बार-बार बोलना और दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी है, जिसने श्री रमन सिंह जी के नेतृत्व में ‘सबका साथ-सबका विकास’ के मंत्र से छत्तीसगढ़ को नक्सलवाद मुक्त व विकासयुक्त एक प्रगतिशील राज्य बनाया है। साथ ही, राज्य को बिजली और सीमेंट उत्पादन के हब के रूप में विकसित किया है।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं गरीबी हटाओ, राहुल गांधी कहते हैं मोदी हटाओ। मोदी जी कहते हैं बेरोजगारी हटाओ, राहुल गांधी कहते हैं मोदी हटाओ। पूरी की पूरी कांग्रेस पार्टी को मोदी फोबिया हो गया है।