‘मोदी सरकार ने जॉब सीकर की जगह जॉब क्रियेटर बनाने का कार्य किया’

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 16 सितंबर को पॉलिटेक्निक महाविद्यालय, जोधपुर में जोधपुर संभाग स्तरीय युवा सम्मेलन को संबोधित किया और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार द्वारा युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए चलाये जा रहे कार्यक्रमों पर विस्तार से चर्चा की। इसके पश्चात् उन्होंने डॉ संपूर्णानंद मेडिकल कॉलेज के सभागार में श्रद्धेय श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की पुण्य स्मृति में आयोजित ‘काव्यांजलि’ कार्यक्रम में भाग लिया और इस अवसर पर उन्होंने प्रबुद्ध नागरिक सम्मेलन को भी संबोधित किया।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि युवा कार्यकर्ता पार्टी के भविष्य हैं, उन्हें पार्टी की परंपरा, कार्य-संस्कृति, पार्टी के मनीषी नेताओं के त्याग और देश के इतिहास को समझने और उससे सीख लेने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमारे मनीषी तपस्वियों ने विचारधारा और सिद्धांत से समझौता न करते हुए देश के मंगल भविष्य के लिए चार पीढ़ियों तक निरंतर संघर्ष किया और इसी का परिणाम है कि 10 सदस्यों के साथ शुरू होने वाली पार्टी आज 11 करोड़ से अधिक सदस्यों के साथ विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक दल बन गई है। उन्होंने कहा कि आज देश के 19 राज्यों में हमारी सरकारें हैं, लगभग 1700 से अधिक विधायक हैं, लगभग 330 सांसद हैं और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार है।

श्री शाह ने युवा कार्यकर्ताओं को सीख देते हुए कहा कि हमारे मनीषी नेताओं की कठिन तपस्या, अथक परिश्रम, कर्मठता और पार्टी के सिद्धांत के प्रति सच्ची निष्ठा के बगैर पार्टी के आज का वैभव की कल्पना नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि पार्टी को आगे ले जाने और प्रधानमंत्री जी की विजय यात्रा को आगे ले जाने की जिम्मेदारी पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं के कंधे पर है। उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए सौभाग्य है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के रूप में दुनिया का सबसे लोकप्रिय, परिश्रमी, प्रमाणिक और सबसे अधिक विजनरी नेता हमारा नेतृत्व कर रहा है, जिनकी अगुआई में भारतीय जनता पार्टी देश के 70% भू-भागों में जनता की सेवा में अहर्निश लगी हुई है।

श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का चरित्र तो समझ ही नहीं आता, कभी वह जेएनयू में देशद्रोही नारे लगाने वालों के साथ खड़ी हो जाती है तो कभी प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचने वालों के साथ। उन्होंने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हम समर्थन करते हैं, लेकिन जो कोई भी भारतवर्ष को तोड़ने का षड़यंत्र करेगा, उसे क़ानून के हिसाब से जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि देश की एकता और अखंडता को तोड़ने की साजिश रचने वालों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार की आड़ में छोड़ा नहीं जा सकता।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने देश के युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए स्किल इंडिया, स्टार्ट-अप इंडिया, स्टैंड-अप इंडिया जैसे कई योजनाओं को धरातल पर उतार कर युवाओं को जॉब सीकर की जगह जॉब क्रियेटर बनाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि सभी बैंकों को दलित, आदिवासी एवं महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए अलग से ऋण उपलब्ध कराने को कहा गया है। मुद्रा बैंक योजना के तहत देश के 12 करोड़ से अधिक लोग लाभान्वित हुए हैं।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने ‘खेलो इंडिया’ के माध्यम से खेल को जन-आंदोलन बनाया है और लोगों को इसके प्रति जागरूक किया है। उन्होंने कहा कि आज हम अंतर्राष्ट्रीय स्पर्द्धाओं में मैडल जीत रहे हैं। मणिपुर में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी तैयार की जा रही है। इतना ही नहीं, सरकार ने 3500 से अधिक युवाओं को खेलो इंडिया के तहत प्रशिक्षित करने का बीड़ा उठाया है। 1000 से अधिक प्रतिभाशाली खिलाडियों को ट्रेनिंग के लिए अलग से आर्थिक सहायता दी जा रही है। उत्कृष्ट खिलाड़ियों के पेंशन को दुगुना कर दिया गया है। गांधीनगर में पैरा एथलीट के प्रशिक्षण के लिए बेहतर सुविधाओं वाले स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है।

श्री शाह ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में भी मोदी सरकार ने कई कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा कि कई नए आईआईटी, आईआईआईटी, आईआईएम, आईटीआई और केन्द्रीय विद्यालय खोले गए हैं। यूजीसी में सुधार किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एक ऐसे भारतवर्ष का निर्माण करना चाहते हैं जहां युवा विश्व के युवाओं से हर क्षेत्र में सफलतापूर्वक प्रतिस्पर्द्धा कर सके, जहां युवाओं को अपने भविष्य को बेहतर बनाने और कल्पना को हकीकत में बदलने के लिए हर सुविधा उपलब्ध हो।