प्रधानमंत्री मोदी, नेपाली प्रधानमंत्री ने जोगबनी-विराटनगर निगरानी चौकी का उद्घाटन किया


प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और उनके नेपाली समकक्ष श्री के. पी. शर्मा ओली ने 21 जनवरी को सीमा के निकट जोगबनी-विराटनगर में दूसरी एकीकृत निगरानी चौकी का संयुक्त रूप से उद्घाटन किया। गौरतलब है कि जोगबनी-बिराटनगर दोनों देशों के बीच एक महत्वपूर्ण व्यापार केन्द्र है। यह चेकपोस्ट आधुनिक सुविधाओं से लैस है।

जोगबनी-बिराटनगर में दूसरा एकीकृत चेकपोस्ट भारत की सहायता से बनाया गया था, जिसके जरिए भारत-नेपाल सीमा पर लोगों के आवागमन और कारोबार को सुविधा मिलती है। दोनों प्रधानमंत्रियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए इसमें शिरकत की।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, ‘नेपाल के समग्र विकास में भारत एक भरोसेमंद साथी के रूप में अपनी भूमिका निभा रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘पड़ोसी प्रथम मेरी सरकार की प्रमुख नीति है और सीमा-पार संपर्कता में सुधार करना उसका एक अहम पक्ष है।’

श्री मोदी ने कहा, ‘भारत-नेपाल मद्देनजर बेहतर संपर्कता का मुद्दा इसलिए महत्वपूर्ण हो जाता है, क्योंकि हमारे आपसी संबंध सिर्फ पड़ोसियों के नहीं, बल्कि इतिहास और भूगोल ने हमें संस्कृति, प्रकृति, परिवार, भाषा, विकास और कई अन्य सूत्रों के जरिए एक-दूसरे से जोड़ा है।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मेरी सरकार सभी मित्र राष्ट्रों के साथ बेहतर यातायात सुविधाओं के विकास और व्यापार, संस्कृति, शिक्षा जैसे क्षेत्रों में संबंधों को प्रगाढ़ बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत नेपाल में सड़क, रेल और संचार जैसी सीमा-पार संपर्क परियोजनाओं के लिए काम कर रहा है।

वर्ष 2015 में नेपाल में आए भूकम्प का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, ‘भारत ने राहत और बचाव अभियान में सबसे पहले मदद पहुंचाने वाले देश की भूमिका निभाई थी। नेपाल के प्रधानमंत्री श्री के.पी. शर्मा ओली ने भारत के प्रयासों के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।