मोदी सरकार कृषि और किसानों की भलाई के लिए कटिबद्ध


केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कांग्रेस की किसानों को गुमराह करने वाली राजनीति पर जम कर प्रहार करते हुए कहा कि संसद में पारित कृषि सुधार विधेयकों में कोई भी प्रावधान ऐसा नहीं है जिससे किसानों का कोई भी नुकसान होने वाला है। उन्होंने कहा, ‘‘जो कृषि सुधार के विधेयक हैं, ये किसानों के जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने वाले हैं। इनके माध्यम से किसानों को स्वतंत्रता मिलने वाली है। ये किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य दिलाने में मददगार होंगे।’’ उन्होंने आगे कहा कि इन विधेयकों के माध्यम से किसान नई तकनीक से जुड़ेगा। इसके कारण किसान अपनी उपज का सही मूल्य बुआई से पहले भी प्राप्त कर सकेगा।
कांग्रेस पर हमला जारी रखते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि विपक्षी दल कृषि सुधार विधेयकों को लेकर किसानों को आधारहीन बातों पर गुमराह कर रहे हैं। देश में 50 वर्षों तक शासन करने वाले लोग पूछ रहे हैं कि हमने कृषि के बिलों में एमएसपी का प्रावधान क्यों नहीं किया। यदि एमएसपी के लिए एक कानून की आवश्यकता थी, तो कांग्रेस ने इसे 50 वर्षों में क्यों नहीं किया? उन्होंने कहा कि एमएसपी सरकार का एक प्रशासनिक निर्णय है। यह पहले भी था, आज भी है और आगे भी जारी रहेगी।