कोरोना के खिलाफ मोदीजी ने साहसिक एवं सामयिक निर्णय लिये: जगत प्रकाश नड्डा

Published on:

भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने 14 जून को वर्चुअल रैली के माध्यम से ‘कर्नाटक जन संवाद’ को संबोधित किया।

श्री नड्डा के भाषण के प्रमुख बिंदु :

  • भाजपा ने 19 वर्चुअल रैली एवं 5000 वीडियो कांफ्रेंसिंग कार्यक्रम के माध्‍यम से कार्यकर्ताओं को प्रेरित किया। 8 से 9 लाख कार्यकर्ता सेवा-कार्य में लगे। 19 करोड़ लोगों को भोजन उपलब्‍ध कराए गए।
  • 6 दशक के शासन के फलस्‍वरूप देश मुसीबत और नीतिपंगुता के दौर से गुजर रहा था। भ्रष्‍टाचार चरम पर था। दुनिया में भारत की छवि धूमिल हो रही थी। जबकि, 6 साल में प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में भारत सशक्‍त हुआ है।
  • कोविड-19 से दुनिया असमर्थ महसूस कर रही थी, वहीं मोदीजी ने साहसिक और सामयिक निर्णय कर भारत को बचाने का कार्य किया। पहले 3 दिन के अंदर संक्रमण के मामले दोगुने हो रहे थे, अब 14 दिन में दोगुना हो रहे है। मोदीजी के आह्वान पर जनता कर्फ्यू सफल रहा। शास्‍त्रीजी के बाद यदि सर्वाधिक किसी नेता की बात मानी गई तो वो मोदीजी हैं। लेकिन इस पूरे परिदृश्‍य में कांग्रेस ने गैर-जिम्‍मेदाराना व्‍यवहार किया।