डॉ. मुखर्जी ने अखंड भारत हेतु अपना सर्वोच्च बलिदान दिया: जगत प्रकाश नड्डा


भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने 6 जुलाई को देश की एकता एवं अखंडता के अग्रदूत और जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 119वीं जयंती के अवसर पर पार्टी के केंद्रीय मुख्यालय के सभागार में आयोजित वर्चुअल जनसभा को संबोधित किया। श्री नड्डा के संबोधन की मुख्‍य बातें-  

  • डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी एक राष्ट्रभक्त, शिक्षाविद, प्रखर राजनेता एवं समाजसेवी थे, जिन्होंने खंडित भारत को अखंड बनाने हेतु अपना सर्वोच्च बलिदान दिया था।
  • यदि आज जम्मू-कश्मीर, पश्चिम बंगाल और पंजाब भारत के अभिन्न अंग हैं तो इसका एकमात्र यश डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी को जाता है।
  • हमें गर्व है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में अगस्त 2019 में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 और 35ए धाराशायी हुई और इसके सूत्रधार बने हमारे गृह मंत्री श्री अमित शाह।
  • भाजपा के सभी कार्यकर्ता आज के दिन यह संकल्प लेते हैं कि डॉ. मुखर्जी पश्चिम बंगाल को जिस ऊंचाई पर ले गए थे, हम पुनः उस ऊंचाई पर पश्चिम बंगाल को प्रतिस्थापित करेंगे।